20+ गाँव की पहेलियाँ |Village Puzzles

दोस्तों आज किस पोस्ट में आप सभी का स्वागत है गांव की पहेलियां आज इस पोस्ट में 20 से अधिक गांव की पहेलियां देने जा रहा हूं जो आपको पढ़ कर समझ कर बहुत मजा आने वाला है आज की इस पोस्ट में 20 से अधिक अच्छा से अच्छा पहेलियां जो गांव से रिलेटेड है इस पहेलियां को पढ़कर बहुत मनोरंजन होंगे आप तो चलिए बिना देरी के इस पोस्ट को पढ़ते हैं और नई-नई पहेलियां गांव की पहेलियां को समझते हैं और मनोरंजन करते हैं जो इस प्रकार है 

20+ गाँव की पहेलियाँ और उनके जवाब

Paheli Number: 1

Paheli: एक गाँव में 100 लोग रहते हैं। उनमें से 99 लोग सच्चे बोलते हैं और एक झूठ बोलता है। सच्चे लोग उस झूठे आदमी को पकड़ने के लिए पुलिस को कह देते हैं। पुलिस उसे कैसे पहचानेगी?

Uttar: पुलिस उस आदमी को उसी समय पकड़ सकती है जब वह ये सुनकर दर के भाग रहा होगा कि “सच्चे लोग उसे पकड़ने के लिए पुलिस को कह रहे हैं”। इससे पुलिस को पकड़ने में आसानी होगी क्योंकि सच्चे लोग किसी के बारे में ऐसा कहने की जरूरत नहीं है जो सच हो।

Paheli Number: 2

Paheli: एक गाँव में एक पेड़ है जिसमें आम लगते हैं। उस पेड़ के नीचे एक आदमी खड़ा है। उस आदमी ने एक आम का टुकड़ा खाया, लेकिन उसे कोई परेशानी नहीं हुई। क्यों?

Uttar: क्योंकि वह आदमी अदम्य था, और एक नाटकीय पेड़ का हिस्सा था।

Paheli Number: 3

Paheli: एक गाँव में एक बूढ़ा व्यक्ति था जिसके पास 7 बेटे थे। उसकी एक लाठी थी, और उसने अपने सभी बेटों के नाम पर लिख दिया कि वह किसके साथ रहेगा। अगले सुबह उसने उसी लाठी से एक दूकान खोली। उसने ऐसा कैसे किया?

Uttar: बूढ़े व्यक्ति ने उस लाठी पर अपने बेटों के नाम लिख दिए थे, जिन्होंने उसकी मदद करके उसे दूकान खोलने में सहायता की।

Paheli Number: 4

Paheli: एक गाँव में एक बहुत बड़ा पेड़ था। उस पेड़ के नीचे एक सुंदर झील थी। एक दिन उस पेड़ पर एक बूढ़ा आदमी बैठा था। झील में कुछ भेड़ उसे पूछती हैं, “तुम यहाँ क्यों बैठे हो?” उसने क्या जवाब दिया?

Uttar: उसने भेड़ों को कहा, “मैं यहाँ इस झील के अंदर तैर रहा हूँ।”

Paheli Number: 5

Paheli: एक गाँव में एक सड़क थी जो दो भागों में विभाजित थी। एक भाग पर एक बड़ी खाई थी और दूसरे भाग में एक पुल था। एक दिन एक आदमी ने देखा कि उसका घर एक तरफ़ और उसकी दुकान दूसरी तरफ़ है। वह दुकान पर पहुँचने के लिए कैसे पहुँचेगा?

Uttar: वह आदमी पुल पर चल कर खाई को पार कर सकता है और दुकान पर पहुँच सकता है।

Paheli Number: 6

Paheli: एक गाँव में एक घर था जिसके 4 दरवाज़े थे। हर दरवाज़े के पीछे एक रहस्यमय चाबी थी। एक दिन एक आदमी ने सभी दरवाज़ों की चाबियों को मिलाकर एक बड़ी छाबी बना दी। उसने घर के किसी भी दरवाज़े को खोलने के लिए इस छाबी का उपयोग कैसे किया?

Uttar: उस आदमी ने छाबी को दरवाज़े के किसी भी ताले में इस्तेमाल किया जिसकी चाबी उसने बनाई थी।

Paheli Number: 7

Paheli: एक गाँव में एक बूढ़ा व्यक्ति था जिसका बेटा एक राजा था। उस राजा की मृत्यु हो गई और बूढ़े व्यक्ति के पास उसका उदाहरण था। लेकिन उसके बच्चे ने उसे देखने का आदेश दिया कि वह उसे उठाकर चले जाए। बूढ़े व्यक्ति ने क्या किया?

Uttar: बूढ़े व्यक्ति ने अपने बेटे के निर्देश का पालन करते हुए राजा का उदाहरण उठाकर चले गए।

Paheli Number: 8

Paheli: एक गाँव में एक व्यक्ति ने अपने बेटे को एक नया घर बनाने के लिए भेजा। बेटे ने घर बनाने के लिए सारे चीनी मिट्टी खोज ली लेकिन उसके पास इसे पानी की कमी थी। उसने कैसे घर बनाया?

Uttar: बेटे ने चीनी मिट्टी को पानी के स्थान पर चढ़ा दिया ताकि वह सुख जाए और घर बन सके।

Paheli Number: 9

Paheli: एक गाँव में एक गुरुद्वारा था जिसमें एक गुरुद्वारे की गंगा थी। एक दिन एक आदमी ने देखा कि गंगा के पानी में कुछ चमकीले पत्थर ढले हुए हैं। उसने उन पत्थरों को निकाल कर एक खास स्थान पर रख दिया। क्यों?

Uttar: उस आदमी ने वह पत्थर निकाल कर एक खास स्थान पर रख दिया क्योंकि उसने उन पत्थरों को सोने के पत्थर मान लिया था।

Paheli Number: 10

Paheli: एक गाँव में एक गुस्सेवाले आदमी ने अपने बेटे को एक नया घर बनाने का आदेश दिया। बेटे ने घर बनाने के लिए चार दीवारें बनाईं लेकिन उसके पास एक छत नहीं थी। उसने कैसे घर बनाया?

Uttar: बेटे ने घर बनाने के लिए चार दीवारें बनाईं और उसे चारों दीवारों के बीच में छत बना दी।

Paheli Number: 11

Paheli: एक गाँव में एक बुढ़िया ने अपने घर के पास एक पेड़ पर बहुत सारे अंगूर लगाए थे। एक दिन उसने देखा कि उसके अंगूर गायब हो गए हैं। उसने उस पेड़ के पास एक चोर को देखा। उसने उसे कैसे पहचाना?

Uttar: बुढ़िया ने चोर को अंगूर चोरी करते हुए देखा था, इसलिए उसने उसे पहचान लिया।

ये थे आपके 11 पहेलियाँ। क्या आपको और पहेलियों की जरूरत है?

Paheli Number: 12

Paheli: एक गाँव में एक आदमी ने अपने घर के बगीचे में एक बड़े पेड़ की चादर बिछाई थी। एक दिन उसने देखा कि चादर पर झूल रहे थे। उसने जांच की तो उसने एक उल्लू को देखा। उसने उल्लू को कैसे पहचाना?

Uttar: आदमी ने चादर पर झूल रहे उल्लू को उस उल्लू की आँखों के चारों ओर के दाग देख कर पहचाना।

Paheli Number: 13

Paheli: एक गाँव में एक सुंदर झील थी जिसमें रात को चांदनी रात होती थी। एक दिन उस झील में एक छोटा सा दीपक जला हुआ था। उसने देखा कि दीपक के पास एक मछली आकर्षित हो रही है। मछली ने दीपक को कैसे जलाया?

Uttar: मछली ने दीपक को नहाने वाली मछली समझ कर दीपक के पास आकर्षित होने की कोशिश की।

Paheli Number: 14

Paheli: एक गाँव में एक बुढ़िया ने अपने घर के पास एक जादूगर का गुफा देखा। एक दिन वह देखा कि जादूगर गुफा से बाहर आकर एक उस्तरा लेकर जा रहा है। उसने उसे कैसे पहचाना?

Uttar: बुढ़िया ने उस जादूगर को उस्तरा लेकर जाते हुए देखा, और उसे पहचान लिया।

Paheli Number: 15

Paheli: एक गाँव में एक आदमी ने एक बड़े पेड़ की छाल उतारी और उसे एक स्टैंड पर सुखाया। एक दिन उसने देखा कि छाल पर कुछ चिंगारी लग रही हैं। उसने जांच की तो उसने एक मेंढ़क को देखा। उसने मेंढ़क को कैसे पहचाना?

Uttar: आदमी ने छाल पर चिंगारी लगाने वाले मेंढ़क को उसकी गति से पहचाना।

Paheli Number: 16

Paheli: एक गाँव में एक आदमी ने एक बड़ी मिट्टी की मूर्ति बनाई और उसे अपने बगीचे में रखा। एक दिन उसने देखा कि मूर्ति के सिर पर एक छोटा सा पक्षी बैठा हुआ है। उसने पक्षी को कैसे पहचाना?

Uttar: आदमी ने मूर्ति के सिर पर बैठे पक्षी की आँखों की दृष्टि से पहचाना।

Paheli Number: 17

Paheli: एक गाँव में एक नदी थी जिसमें एक पुल था। एक दिन उस पुल के नीचे एक आदमी बैठा था। उसने देखा कि पुल पर से एक चोर गुजर रहा है। उसने चोर को कैसे पहचाना?

Uttar: आदमी ने पुल पर से गुजरते हुए चोर की छाया में छाया देखा, और उसे पहचान लिया।

Paheli Number: 18

Paheli: एक गाँव में एक बच्चा देखा कि उसके घर के पास एक पेड़ पर बहुत सारे आम लगे हुए हैं। एक दिन उसने देखा कि पेड़ पर से कुछ आम गायब हो गए हैं। उसने उसे कैसे पहचाना?

Uttar: बच्चा ने देखा कि पेड़ पर आम गायब होने का कारण एक बंदर था, जो आम चोर रहा था।

Paheli Number: 19

Paheli: एक गाँव में एक महिला ने अपने बच्चे को एक नाचने वाले टोपी पहनाई। एक दिन उसने देखा कि टोपी पर एक छोटा सा पक्षी बैठा हुआ है। उसने पक्षी को कैसे पहचाना?

Uttar: महिला ने टोपी पर बैठे पक्षी की चुटकुली आंखों से पहचाना।

Paheli Number: 20

Paheli: एक गाँव में एक बड़े पेड़ के पास एक आदमी खड़ा था। उसने देखा कि पेड़ के ऊपर से एक बंदर गुजर रहा है। उसने बंदर को कैसे पहचाना?

Uttar: आदमी ने देखा कि पेड़ के ऊपर से गुजरते हुए बंदर की शाखाओं की हिचकिचाहट से पहचाना।

सत्यम राज Paheliyan.in में मुख्य संपादक के रूप में कार्यरत हैं, सत्यम को लेखन के क्षेत्र में 3 वर्षों से अधिक का अनुभव है। सत्यम ने हिंदी और संस्कृत में M.A किया। सत्यम Paheliyan.in में प्रकाशित किये जानें वाले सभी लेखों का निरीक्षण और विषयों का विश्लेषण से सम्बंधित कार्य करते हैं। और Paheliyan.in की संपादक, लेखक और ग्राफिक डिजाइनर की टीम का नेतृत्व करते हैं।

Leave a Comment